HomeEditor ChoiceOTP क्या होता है ? हिंदी में पूरी जानकरी

OTP क्या होता है ? हिंदी में पूरी जानकरी

OTP क्या होता है हिंदी भाषा में सुने

क्या आपको पता है OTP Kya hota hai. और इसका क्या इस्तमाल है दोस्तों आप अपने आसपास के लोगों से OTP शब्द का जिक्र कई बार सुना होगा। जैसे कि –

ओटीपी आया क्या?

ओटीपी आएगा।

ओटीपी नहीं आया अभी तक।

ओटीपी का इंतजार कर रहा हूं।

ओटीपी आ गया।

ऊपर मैंने कुछ ऐसे शब्द लिखे हैं जो आपको आसपास के लोगों से ज्यादा सुनने को मिलते होगे। या फिर आपने जाने अनजाने में कई बार OTP का इस्तेमाल भी किया होगा।

दोस्तों अगर आपको OTP के बारे में कुछ भी नहीं पता तो कोई बात नहीं क्योंकि आज के इस लेख को पढ़कर आप OTP से जुड़ी हर एक जानकारी पा सकते हैं कि OTP kya hota hai Hindi me, OTP number kya hai, OTP Ka full form kya hai, इसके क्या फायदे हैं और भी ढेरों सारी जानकारी आपको इस लेख में मिल जाएगी।

OTP क्या होता है OTP kya hota hai Hindi me

OTP kya hota hai

OTP एक प्रकार का सुरक्षा कोड यानी कि पासवर्ड होता है जिससे यूजर्स को वैध प्रमाणित किया जाता है OTP में चार से लेकर आठ संख्या होती है एक OTP को केवल आप एक ही बार के इस्तेमाल में ला सकते है। हर एक ओटीपी की एक निश्चित Validity समय निर्धारित होती है। जिसके अंदर ही आपको उस OTP का इस्तेमाल करना होता है वरना वह OTP expire हो जाती है और बाद में वह किसी काम की नहीं होती। यही ओटीपी की खासियत होती है।

OTP का फुल फॉर्म क्या है OTP Ka full form kya hai.

ओटीपी का पूरा नाम ( OTP full form in Hindi ) One Time Password होता है। जो One Time Pin के नाम से भी जाना जाता है। इसका हिंदी में अर्थ ( One Time Password Meaning in Hindi ) – वह पासवर्ड जिसका इस्तेमाल केवल एक ही बार किया जा सकता है।

OTP सुरक्षित कैसे है और कितना सुरक्षित है

OTP ( One Time Password ) एक सामान्य पासवर्ड से कई गुना अधिक सुरक्षित है ऐसा इसलिए क्योंकि एक OTP का इस्तेमाल केवल एक ही बार होता है और वह भी एक निश्चित समय के अंदर।

अगर आपका पासवर्ड किसी को पता चल गया तो वह चाहे तो वह आपके अकाउंट के साथ कुछ भी छेड़छाड़ कर सकता है लेकिन अगर आपने अपने अकाउंट में OTP सिस्टम लगाया है जिसे हम Two-Step Verification के नाम से भी जानते हैं तो कोई भी आपके अकाउंट के साथ आसानी से छेड़खानी नहीं कर सकता। क्योंकि हर बार एक नई OTP जनरेट होती हैं और वह भी आपके रजिस्टर करवाएं मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर ही डिलीवरी होती है।

जब भी हम कहीं नया खाता खोलते हैं चाहे वह खाता इंटरनेट बैंकिंग का हो, फेसबुक का हो, या किसी भी चीज का। तो हमें वहां एक अपना आईडी और पासवर्ड चुनना या बनाना होता है ऐसे में हम अपना पासवर्ड अपने लिए थोड़ा आसान बनाते हैं ताकि हमें वह आसानी से याद हो सके। ज्यादातर लोग पासवर्ड बनाने के लिए अपना जन्म दिन , मोबाइल नंबर और नाम का अधिक इस्तेमाल करते हैं।

सर्वे में पाया गया है कि ज्यादातर लोग पासवर्ड में 123456 का इस्तेमाल करते हैं और शायद आपको पता नहीं जब आप किसी ब्राउज़र या अन्य एप्लीकेशन में अपना आईडी या पासवर्ड डालते हैं तो आपकी आईडी और पासवर्ड उस ब्राउज़र में सेव हो जाती है और यह भी प्रतिक्रिया आपकी मदद करने के लिए ही की जाती है ताकि जब आप अगली बार उस ब्राउज़र में जाए तो आपको बार-बार आईडी और पासवर्ड ना डालना पड़े।

ऐसे में आपके पासवर्ड को हैक कर लेना हैकर्स के लिए आसान तो नहीं लेकिन इतना कठिन भी नहीं होता।

क्योंकि आप बार-बार एक ही आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपकी जान पहचान का कि कोई इंसान अगर आपके आईडी और पासवर्ड को जान जाता है तो वह उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है।

लेकिन ऐसा OTP के साथ नहीं होता। क्योंकि कोई भी ओटीपी का इस्तेमाल की एक ही बार होता है अगर कोई गलती से OTP इस्तेमाल करते वक्त आपका OTP जान भी जाता है तो भी आपके अकाउंट के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकता। क्योंकि वह ओटीपी दोबारा काम नहीं करने वाली। जो आपने एक बार खुद के इस्तेमाल में ले लिया है।

कृपया कर आप अपना ID , Password , OTP, ATM card number, CCV, expiry Date, BHIM UPI PIN , किसी के साथ शेयर ना करे। Customer Support Officer या बैंक Customer Support भी ये जानकारी आपसे नहीं मांगता।

OTP का इस्तेमाल

  • OTP का इस्तेमाल ज्यादातर Net Banking में ऑनलाइन transaction करने के लिए किया जाता है जिससे Net Banking करना और भी सुरक्षित हो जाता है।
  • OTP का इस्तेमाल अब कई सारे Shopping Website भी करने लगी है जैसे Flipkart , और Snapdeal आदि।
  • Google भी OTP का इस्तेमाल Two-Step Verification के नाम से करता है जो आप Google account कि सेटिंग में जाकर इसे चालू कर सकते है।
  • OTP का इस्तेमाल आपको कई सारे ऐप और वेबसाईट में भी देखने को मिल जाएगा। जैसे कि Paytm, Phonepe, Google Pay, आदि।
  • अब OTP का इस्तेमाल Social Media ऐप और वेबसाईट भी करने लगी है जिससे उनके यूजर्स के एकाउंट और भी सुरक्षित हो जाते है।
  • OTP का इस्तेमाल तब भी किया जाता है जब आप एक नया सिम कार्ड खरीदने जाते हैं और यह ओटीपी आपके दिए गए दूसरे नंबर पर भेजी जाती है

OTP के फायदे

  • OTP एक प्रकार का पासवर्ड होता है जिसका इस्तेमाल यूजर्स को वैध प्रमाणित करने के लिए किया जाता है। क्योंकि एक OTP को केवल एक बार ही इस्तेमाल किया जा सकता है इसलिए ये normal password के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित है।
  • धोखाधड़ी से बचाव – क्योंकि एक ओटीपी का केवल एक ही बार इस्तेमाल किया जा सकता है इसलिए आप इसके इस्तेमाल से धोखाधड़ी से बच सकते हैं
  • Two Step Verification – ओटीपी आपके अकाउंट को दुगना सुरक्षित बना देता है क्योंकि पहले से आपने खुद एक पासवर्ड लगाया होता है और ऊपर से एक ओटीपी सिस्टम।
  • OTP की खास बात यही है यह बिल्कुल फ्री है ओटीपी सिस्टम आपको किसी भी एप्लीकेशन या फिर वेबसाइट में या फिर किसी ऑनलाइन सर्विस जैसे कि नेट बैंकिंग या फिर बाकी के वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन जहां ऑनलाइन ट्रांजैक्शन होते हैं में आपको फ्री में इस्तेमाल करने के लिए मिल जाता है। जिससे कि आप अपने अकाउंट को और भी ज्यादा सुरक्षित कर सकते हैं।
  • इसकी एक और खास बात किया है की OTP का इस्तेमाल करना आपके हाथों में होता है अगर आपको OTP का इस्तेमाल करना चाहे तो आप कर सकते हैं अगर नहीं करना चाहते हैं तो आप इसे इग्नोर कर सकते हैं।

दोस्तों आज के इस लेख में “OTP क्या होता है OTP kya hota hai Hindi me” में हमने जाना कि OTP kya hai,OTP number kya hai, OTP Ka full form kya hai, और इसके क्या फायदे हैं उम्मीद है आपको हमारे इस लेख से ओटीपी के बारे में कुछ नया सीखने को मिला होगा। आपको हमारी यह लेख पढ़ने के लिए जानकारी खोज कि ओर से दिल से धन्यवाद।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

HomeEditor ChoiceOTP क्या होता है ? हिंदी में पूरी जानकरी

OTP क्या होता है ? हिंदी में पूरी जानकरी

OTP क्या होता है हिंदी भाषा में सुने

क्या आपको पता है OTP Kya hota hai. और इसका क्या इस्तमाल है दोस्तों आप अपने आसपास के लोगों से OTP शब्द का जिक्र कई बार सुना होगा। जैसे कि –

ओटीपी आया क्या?

ओटीपी आएगा।

ओटीपी नहीं आया अभी तक।

ओटीपी का इंतजार कर रहा हूं।

ओटीपी आ गया।

ऊपर मैंने कुछ ऐसे शब्द लिखे हैं जो आपको आसपास के लोगों से ज्यादा सुनने को मिलते होगे। या फिर आपने जाने अनजाने में कई बार OTP का इस्तेमाल भी किया होगा।

दोस्तों अगर आपको OTP के बारे में कुछ भी नहीं पता तो कोई बात नहीं क्योंकि आज के इस लेख को पढ़कर आप OTP से जुड़ी हर एक जानकारी पा सकते हैं कि OTP kya hota hai Hindi me, OTP number kya hai, OTP Ka full form kya hai, इसके क्या फायदे हैं और भी ढेरों सारी जानकारी आपको इस लेख में मिल जाएगी।

OTP क्या होता है OTP kya hota hai Hindi me

OTP kya hota hai

OTP एक प्रकार का सुरक्षा कोड यानी कि पासवर्ड होता है जिससे यूजर्स को वैध प्रमाणित किया जाता है OTP में चार से लेकर आठ संख्या होती है एक OTP को केवल आप एक ही बार के इस्तेमाल में ला सकते है। हर एक ओटीपी की एक निश्चित Validity समय निर्धारित होती है। जिसके अंदर ही आपको उस OTP का इस्तेमाल करना होता है वरना वह OTP expire हो जाती है और बाद में वह किसी काम की नहीं होती। यही ओटीपी की खासियत होती है।

OTP का फुल फॉर्म क्या है OTP Ka full form kya hai.

ओटीपी का पूरा नाम ( OTP full form in Hindi ) One Time Password होता है। जो One Time Pin के नाम से भी जाना जाता है। इसका हिंदी में अर्थ ( One Time Password Meaning in Hindi ) – वह पासवर्ड जिसका इस्तेमाल केवल एक ही बार किया जा सकता है।

OTP सुरक्षित कैसे है और कितना सुरक्षित है

OTP ( One Time Password ) एक सामान्य पासवर्ड से कई गुना अधिक सुरक्षित है ऐसा इसलिए क्योंकि एक OTP का इस्तेमाल केवल एक ही बार होता है और वह भी एक निश्चित समय के अंदर।

अगर आपका पासवर्ड किसी को पता चल गया तो वह चाहे तो वह आपके अकाउंट के साथ कुछ भी छेड़छाड़ कर सकता है लेकिन अगर आपने अपने अकाउंट में OTP सिस्टम लगाया है जिसे हम Two-Step Verification के नाम से भी जानते हैं तो कोई भी आपके अकाउंट के साथ आसानी से छेड़खानी नहीं कर सकता। क्योंकि हर बार एक नई OTP जनरेट होती हैं और वह भी आपके रजिस्टर करवाएं मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर ही डिलीवरी होती है।

जब भी हम कहीं नया खाता खोलते हैं चाहे वह खाता इंटरनेट बैंकिंग का हो, फेसबुक का हो, या किसी भी चीज का। तो हमें वहां एक अपना आईडी और पासवर्ड चुनना या बनाना होता है ऐसे में हम अपना पासवर्ड अपने लिए थोड़ा आसान बनाते हैं ताकि हमें वह आसानी से याद हो सके। ज्यादातर लोग पासवर्ड बनाने के लिए अपना जन्म दिन , मोबाइल नंबर और नाम का अधिक इस्तेमाल करते हैं।

सर्वे में पाया गया है कि ज्यादातर लोग पासवर्ड में 123456 का इस्तेमाल करते हैं और शायद आपको पता नहीं जब आप किसी ब्राउज़र या अन्य एप्लीकेशन में अपना आईडी या पासवर्ड डालते हैं तो आपकी आईडी और पासवर्ड उस ब्राउज़र में सेव हो जाती है और यह भी प्रतिक्रिया आपकी मदद करने के लिए ही की जाती है ताकि जब आप अगली बार उस ब्राउज़र में जाए तो आपको बार-बार आईडी और पासवर्ड ना डालना पड़े।

ऐसे में आपके पासवर्ड को हैक कर लेना हैकर्स के लिए आसान तो नहीं लेकिन इतना कठिन भी नहीं होता।

क्योंकि आप बार-बार एक ही आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपकी जान पहचान का कि कोई इंसान अगर आपके आईडी और पासवर्ड को जान जाता है तो वह उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है।

लेकिन ऐसा OTP के साथ नहीं होता। क्योंकि कोई भी ओटीपी का इस्तेमाल की एक ही बार होता है अगर कोई गलती से OTP इस्तेमाल करते वक्त आपका OTP जान भी जाता है तो भी आपके अकाउंट के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकता। क्योंकि वह ओटीपी दोबारा काम नहीं करने वाली। जो आपने एक बार खुद के इस्तेमाल में ले लिया है।

कृपया कर आप अपना ID , Password , OTP, ATM card number, CCV, expiry Date, BHIM UPI PIN , किसी के साथ शेयर ना करे। Customer Support Officer या बैंक Customer Support भी ये जानकारी आपसे नहीं मांगता।

OTP का इस्तेमाल

  • OTP का इस्तेमाल ज्यादातर Net Banking में ऑनलाइन transaction करने के लिए किया जाता है जिससे Net Banking करना और भी सुरक्षित हो जाता है।
  • OTP का इस्तेमाल अब कई सारे Shopping Website भी करने लगी है जैसे Flipkart , और Snapdeal आदि।
  • Google भी OTP का इस्तेमाल Two-Step Verification के नाम से करता है जो आप Google account कि सेटिंग में जाकर इसे चालू कर सकते है।
  • OTP का इस्तेमाल आपको कई सारे ऐप और वेबसाईट में भी देखने को मिल जाएगा। जैसे कि Paytm, Phonepe, Google Pay, आदि।
  • अब OTP का इस्तेमाल Social Media ऐप और वेबसाईट भी करने लगी है जिससे उनके यूजर्स के एकाउंट और भी सुरक्षित हो जाते है।
  • OTP का इस्तेमाल तब भी किया जाता है जब आप एक नया सिम कार्ड खरीदने जाते हैं और यह ओटीपी आपके दिए गए दूसरे नंबर पर भेजी जाती है

OTP के फायदे

  • OTP एक प्रकार का पासवर्ड होता है जिसका इस्तेमाल यूजर्स को वैध प्रमाणित करने के लिए किया जाता है। क्योंकि एक OTP को केवल एक बार ही इस्तेमाल किया जा सकता है इसलिए ये normal password के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित है।
  • धोखाधड़ी से बचाव – क्योंकि एक ओटीपी का केवल एक ही बार इस्तेमाल किया जा सकता है इसलिए आप इसके इस्तेमाल से धोखाधड़ी से बच सकते हैं
  • Two Step Verification – ओटीपी आपके अकाउंट को दुगना सुरक्षित बना देता है क्योंकि पहले से आपने खुद एक पासवर्ड लगाया होता है और ऊपर से एक ओटीपी सिस्टम।
  • OTP की खास बात यही है यह बिल्कुल फ्री है ओटीपी सिस्टम आपको किसी भी एप्लीकेशन या फिर वेबसाइट में या फिर किसी ऑनलाइन सर्विस जैसे कि नेट बैंकिंग या फिर बाकी के वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन जहां ऑनलाइन ट्रांजैक्शन होते हैं में आपको फ्री में इस्तेमाल करने के लिए मिल जाता है। जिससे कि आप अपने अकाउंट को और भी ज्यादा सुरक्षित कर सकते हैं।
  • इसकी एक और खास बात किया है की OTP का इस्तेमाल करना आपके हाथों में होता है अगर आपको OTP का इस्तेमाल करना चाहे तो आप कर सकते हैं अगर नहीं करना चाहते हैं तो आप इसे इग्नोर कर सकते हैं।

दोस्तों आज के इस लेख में “OTP क्या होता है OTP kya hota hai Hindi me” में हमने जाना कि OTP kya hai,OTP number kya hai, OTP Ka full form kya hai, और इसके क्या फायदे हैं उम्मीद है आपको हमारे इस लेख से ओटीपी के बारे में कुछ नया सीखने को मिला होगा। आपको हमारी यह लेख पढ़ने के लिए जानकारी खोज कि ओर से दिल से धन्यवाद।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments